Thursday, July 02, 2015

तन्हाई मैं मुस्कुराना भी..

तन्हाई में मुस्कुराना भी इश्क़ है
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है
यूँ तो रातों को नींद नही आती
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है...
Share: