Tuesday, May 31, 2016

Mout Shayari mix collection मौत लफ्ज़ पर शायरी संग्रह

जिन्दगी से तो खैर शिकवा था
मुद्दतों मौत ने भी तरसाया।
तुम साथ हो जब अपने दुनिया को दिखा देंगे,
हम मौत को जीने के अंदाज़ सिखा देंगे !!

मौत फिर जीस्त न बन जाये यह डर है’गालिब’,
वह मेरी कब्र पर अंगुश्त-बदंदाँ होंगे !!

तुम न आओगे तो मरने की हैं सौ तदबीरें,
मौत कुछ तुम तो नहीं हो कि बुला भी न सकूँ !! #Ghalib

मैं उस की आस में यूँ बैठा हूँ जैसे
किसी ला-इलाज को इंतेज़ार हो मौत का

उससे बिछड़े तो मालूम हुआ की मौत भी कोई चीज़ है ‘फ़राज़’
ज़िन्दगी वो थी जो हम उसकी महफ़िल में गुज़ार आए !! – अहमद फ़राज़

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
अपने ही दिल के आग़ में शम्अ पिघल गई
शम्म-ए-हयात मौत के साँचे में ढल गई
# असर लखनवी

मुझे मौत से डरा मत, कई बार मर चुका हूँ
किसी मौत से नहीं कम कोई ख़्वाब टूट जाना

अगर है शौक़े सफ़र तो हमारे साथ चलो,
नहीं है मौत का डर तो हमारे साथ चलो

ए मौत। उन्हें भुलाये ज़माने गुज़र गए,
आ जा के ज़हर खाये जमाने गुज़र गए।

रंज उठाने से भी ख़ुशी होगी, पहले दिल दर्द आशना कीजे,
मौत आतीं नहीं कहीं ‘ग़ालिब’, कब तक अफ़सोस जीस्त का कीजे !!

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
मौत के डर से जीते नहीं एक लम्हा भी,
लोग जाने ज़िन्दगी फिर से मुहोब्बत क्यों करते हैं

मौत सी हसीं होती कहाँ है ज़िन्दगी,
इसके दामन में तो कई दाग़ लगे हैं।

मौत जिस्म की रिवायत है,
रूह को बस लिबास बदलना है।

दर्द की बिसात है, मैं तो बस प्यादा हूँ,
एक तरफ ज़िन्दगी को शय है, एक तरफ मौत को भी मात है।

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
हर मोड़ पे कोई अपना छूट ही जाता है,
ये क्या तरीका है, ए ज़िन्दगी। मौत से रूबरू करने का।

कोन सा गुनाह किया तूने, ए दिल।
ना ज़िन्दगी जीने देती है, ना मौत आती है।

क्या गिला करना अपनों से यहाँ,
मौत आजाये तो ज़िन्दगी भी मुह मोड़ लेती है।

मौत सा मिज़ाज़ है मेरा,
दर्द भी है रुस्वाई भी।

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
मुझे मौत से डरा मत, कई बार मर चुका हूँ
किसी मौत से नहीं कम कोई ख़्वाब टूट जाना

दिल को सुकून मिल जाये ऐसी नींद ना आई कभी,
ऐ मौत अब तुझे आज़माने को जी चाहता है।

रंज उठाने से भी ख़ुशी होगी, पहले दिल दर्द आशना कीजे,
मौत आतीं नहीं कहीं ‘ग़ालिब’, कब तक अफ़सोस जीस्त का कीजे !!

जिसे अंजाम तुम समझते हो,
इब्तिदा है किसी कहानी की !
कसम इस आग और पानी की,
मौत अच्छी है बस जवानी की!!

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
वो ना आएँगे ए दिल तो मौत आएगी ज़रूर,
आज की शब तुझको हर सूरत करार आने को है !! – #रहबर

मौज़ की मौत है साहिल का नज़र आ जाना
शौक कतरा के किनारे से गुजर जाता है!

अकेला रात भर तङपता मरीजे शामे गम
न तुम आये न नीद आई न चैन आया न मौत आई

ना आये मौत खुदाया तबाह-हाली में
ये नाम होगा ग़म-ए-रोज़गार सह न सके.!!

न बस में ज़िन्दगी इसके न क़ाबू मौत पर इसका
मगर इन्सान फिर भी कब ख़ुदा होने से डरता है
#राजेश रेड्डी

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
कैसे बताऊँ क्या हुई,जीने की आरज़ू
एक हादसे में,आप अपनी मौत मर गई.!!

ज़िन्दगी और मौत का मतलब
तुमको पाना है तुमको खोना है.!!

आखरी हिचकी तेरे दामन में आए
मौत भी मैं शायराना चाहता हूँ.!!

ऐ खुदा इन्साफ़ कर हम मज़लूम आशिकों का,
इश्क को सज़ा-ए-मौत दे हमें बाइज्जत बरी कर.!!

Mout lafz par Shayari मौत लफ्ज़ पर शायरी
क़ैदे-हयात बंदे-ग़म अस्ल में दोनों एक हैं
मौत से पहले आदमी ग़म से निजात पाए क्यों

मै जो चाहूँ तो अभी तोड़ लूँ नाता तुमसे
पर मै बुज़दिल हूँ, मुझे मौत से डर लगता है.!!

शहीद की जो मौत है , वो क़ौम की हयात है।।
लहू जो है शहीद का , वो क़ौम की जक़ात है..!!

किसी की मौत देती है किसी को ज़िन्दगी यूँ भी।।
वही जलती है चूल्हे में जो लकड़ी सूख जाती है..!!
Search Tags
Mout Lafz par Shayari in Hindi, Mout Hindi Shayari, Mout Shayari, Mout whatsapp status, Mout hindi Status, Hindi Shayari onMoutMout whatsapp status in hindi,
 Death Shayari, Death Hindi Shayari, Death Shayari, Death whatsapp status, Death hindi Status, Hindi Shayari on DeathDeathwhatsapp status in hindi,
 मौत हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, मौतमौत स्टेटस, मौत व्हाट्स अप स्टेटस, मौत पर शायरी, मौत शायरी, मौत पर शेर, मौत की शायरी
Share: