Saturday, June 04, 2016

Friendship Shayari mix collection दोस्ती पर शायरी संग्रह

****
ज़िंदगी में दुबारा अगर मिल जाओ तो याद रखना वो पल जब दोस्ती को हमने क़बूला था एकसाथ
***
दिल तोड़ना सजा है मुहब्बत की! दिल जोड़ना अदा है दोस्ती की! मांगे जो कुर्बानियां वो है मुहब्बत! और जो बिन मांगे कुर्बान हो जाये वो है दोस्ती!
***
ऐसा वादा न करना जो निभा न सको उस से दिल मत लगाना जिसे अपना बना न सको दोस्ती सब से करना मगर उस एक को खुश रखना जिसके बिना आप मुस्कुरा न सको
***
दोस्ती के दरवाज़े, लाख बंद कर तू मैं “हवा” के झोंके सी हूँ, दरारों से भी आ जाऊँगा़ी ।
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
रिश्ता मुहब्बत का नही कुछ …. दोस्ती में ही मुहब्बत है बहुत ..
***
कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी, एक मै हूँ और एक सच्ची दोस्ती तेरी
***
उमर बिताना ही ज़िंदगी नही होती, खुद से भी ज़्यादा ख्याल रखना पड़ता है दोस्तों का. क्यूँ क़ि… दोस्त कहना ही दोस्ती नही होती.
***
दोस्ती इन्सान की ज़रुरत है!दिलों पर दोस्ती की हुकुमत है! आपके प्यार की वजह से जिंदा हूँ!वरना खुदा को भी हमारी ज़रुरत है!
***
अगर दूर हों जाएँ तो ऐतबार करना अपने दिल को यूँ बेकरार ना करना लौट आयेंगें हम जहाँ भी होंगें सिर्फ हमारी दोस्ती पर ऐतबार करना।।
***
ए दोस्त मिट गया हूँ फ़ना हो गया हूँ मैं.
इस दर्द-ए-दोस्ती की दवा हो गया हूँ मैं…..!!
***
दोस्ती के लिए कुछ खास दिल मख़्सूस होते है,
ये वो नगमा है जो हर साज पर गया नहीं जाता….
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है
***
आखरी एहसान बस इतना था उसका उसने हाथ छुड़ाते वक़्त ग़म से दोस्ती करवा दी!
***  Friendship Shayari Dosti Shayari
शर्तें रक्खी़ जाती नही दोस्ती के साथ ! किजीये मुझे कबूल मेरी हर कमी के साथ!!
***
महक दोस्ती की इश्क से कम नहीं होती,इश्क से जिन्दगी ख़त्म नहीं होती.अगर साथ हो जिन्दगी में अच्छे दोस्तों का,तो जिन्दगी जन्नत से कम नहीं होती
***
तुझसे दोस्ती करने का हिसाब ना आया मेरे किसी भी सवाल का जवाब ना आया हम तो जागते रहे तेरे ही ख्यालों में और तुझे सो कर भी हमारा ख्वाब ना आया
***
दिन हुआ है तो रात भी होगी.. हो मत उदास, कभी बात भी होगी.. इतने प्यार से दोस्ती की है.. जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी..
***
जाम पे जाम पीने का क्या फ़ायदा? शामको पी, सुबह उतर जाएगी. अरे दो बून्द दोस्ती के पी ले ज़िन्दगी सारी नशे में गुज़र जाएगी..
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
यारी का ये सिलसिला निभाए रखना दोस्त.. जान तो नहीं मांगेंगे आपसे पर गुजारिश है की जान के जाने तक दोस्ती बनाए रखना .
***
“तुम मुझसे दोस्ती का मोल ना पूछना कभी… तुम्हें किसने कहा की पेड़ छाँव बेचते हैं…….”
***
सियासत से अदब की दोस्ती बेमेल लगती है कभी देखा है पत्थर पे भी कोई बेल लगती है
***
हमें कोई ग़म नहीं था„ ग़म-ए-आशिकी से पहले… न थी दुश्मनी किसी से„ तेरी दोस्ती से पहले…!!!
***
कितनी नन्हीं सी, परिभाषा है दोस्ती की ? मैं शब्द, तुम अर्थ, तुम बिन, मैं व्यर्थ…..
***
बंधन दिलो को जोड़े रखने के लिए होते है। हमारी दोस्ती को मजहब का रंग मत दो
***
क्या फर्क है दोस्ती और मोहबत मे रहते तो दोनो दिल मे है फर्क ईतना है बरसो बाद मिलने पर मोहबत नजर चुरा लेती है और दोस्त सीने से लगा लेते है
***
परिंदो से दोस्ती , ख्वाब का शजर हो.. सूरज लक्ष्य , आसमान पर नज़र हो.. बुलंदी पूछती फिरेगी तेरा पता,.. ढेर सा जतन , बस थोडा सा सबर हो..
***
दिल मे एक शोर सा हो रहा है. बिन आप के दिल बोर हो रहा है. बहुत कम याद करते हो आप हमे. कही ऐसा तो नही का ये दोस्ती का रिश्ता कमज़ोर हो रहा है
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
अपनी दोस्ती का बस इतना सा असूल है, जो तू कुबूल है…. तो तेरा सब कुछ कबूल है..
***
अपनी दोस्ती फूलो जैसी नहीं जो एक बार खिले और मुर्झा जाए अपनी दोस्ती तो काँटो जैसी है जो एक बार चुभे और बार बार याद आए
***
शिद्दत-ए-दर्द से सर्मिंदा नहीं है मेरी वफ़ा, जिन से भी दोस्ती गहरी होती है वही जख्म भी गहरा देतें हैं।
***
प्यार मे कोई दिल तोड़ देता है, दोस्ती मे कोई भरोसा तोड़ देता है… ज़िंदगी जीना तो कोई गुलाब से सिखे जो खुद टूट कर दो दिलो को जोड़ देता है|
***
दर्द से दोस्ती हो गई यारों; जिंदगी बे दर्द हो गई यारों; क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा; दूर तक रोशनी तो हो गई यारो।
***
मोहब्बतों में दिखावे की दोस्ती न मिला अगर गले नहीं मिलता, तो हाथ भी न मिला
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
दोस्ती कभी ख़ास लोगों से नहीं होती, जिनसे हो जाती है वही लोग ज़िन्दगी में ख़ास बन जाते है !…
***
दोस्ती कोई खोज नहीं होती यह हर किसी से हर रोज नहीं होती जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवजह मत समझना क्योंकि पलके कभी आँखों पर बोझ नहीं होती
***
लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो की दोस्ती दिल पर सवार हो जाए, हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो की दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए.
***
कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है..!!
***
ये कहां की दोस्ती है कि बने है दोस्त नासेह कोई चारासाज़ होता कोई ग़मगुसार होता. Mirza Ghalib
***
ये दोस्ती भी एक रिश्ता है…. जो निभा दे ..वो फ़रिश्ता है……..।”
***
न जाने इस ज़िन्दगी की राह में कब कौन अकेला हो जाये…. जलाओ एक दोस्ती का दीप ऐसा कि हर तरफ सवेरा हो जाये !!!!!
***
प्यार करने वालो की किस्मत ख़राब है!हर वक़्त इन्तहा की घड़ी साथ है! वक़्त मिले तो रिश्तो की किताब खोलके देखना! दोस्ती हर रिश्तो से लाजवाब है!
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
दोस्ती वो नहीं जो हम एक साल में; कितनों से करते हैं; दोस्ती तो वो है जो हम किसी एक से; कितने सालों तक रखते हैं।
***
हम रास्तों से दोस्ती कर लेते है । मंजिल तक पहुँचना आसान हो जाता है ।।
***
भूल बैठी वो निगाह-ए-नाज़ अहद-ए-दोस्ती उस को भी अपनी तबीयत का समझ बैठे थे हम….
*** Friendship Shayari Dosti Shayari
जज्बातों की डोर में बंधा हुआ विश्वास ही तो है.. और क्या है दोस्ती एक अहसास ही तो है..
***
अगर बिकी तेरी दोस्ती. तो पहले ख़रीददार हम होंगे तुझे ख़बर न होगी तेरी क़ीमत पर तुझे पाकर सबसे अमीर हम होंगे
***
मैं कहूँ और आप सुनो वो अच्छी दोस्ती; आप कहो और मैं सुनूँ वो उससेभी अच्छी दोस्ती; पर मैं कुछ भी न कहूँ और आप समझ जाओ तो वो है सच्ची दोस्ती
***
दोस्त बनाना आसान नहीं, पर उससे मुश्किल है दोस्ती निभाना। अगर दोस्ती निभा ना सको, तो कभी सच्चे दोस्त मत बनाना।
***
दोस्ती के नाम पर पहले भी खाए थे फ़रेब दोस्तों ने दर्द बख़्शा था मगर इतना न था।
***
हम वो नहीं जो दिल तोड़ देंगे, थाम कर हाथ साथ छोड़ देंगे, हम दोस्ती करते हैं पानी और मछली की तरह, जुदा करना चाहे कोई तो हम दम तोड़ देंगे …
Share: