Wednesday, June 01, 2016

Intzar Shayari mix collection इंतज़ार पर शायरी संग्रह

बजाय सीने के आँखों में दिल धड़कता है,
ये इंतज़ार के लम्हे अज़ीब होते हैं !!
***
मुझे मंज़ूर है इंतज़ार उम्र भर का लेकिन
मेरी आँखों से वस्ल का वही इक रोज़ तुम देखो
***
ता फिर ना इंतज़ार में नींद आये उम्र भर
आने का अहद कर गए आये जो ख्वाब में
~ग़ालिब
***
ये न थी हमारी क़िस्मत कि विसाल-ए-यार होता
अगर और जीते रहते यही इंतज़ार होता
~ग़ालिब
**** Intzar Shayari in Hindi
इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियों की अब आदत हो गयी है
***
तुम आये हो ना शब्-ए-इंतज़ार गुज़री है
तलाश में है सहर बार-बार गुज़री है
***
फिर बैठे बैठे वादा-ए-वस्ल उस ने कर लिया,
फिर उठ खड़ा हुआ वही रोग इंतज़ार का !!
***
टूटी जो आस जल गये पलकों पे सौ चिराग़,
निखरा कुछ और रंग शब-ए-इंतज़ार का !!- मुमताज़ मिर्ज़ा
*** Intzar Shayari in Hindi
अब तो उठ सकता नहीं आँखों से बार-ए-इंतज़ार
किस तरह काटे कोई लैल-ओ-नहार-ए-इंतज़ार
***
उन के खत की आरज़ू है उन के आमद का ख़याल
किस क़दर फैला हुआ है कारोबार-ए-इंतज़ार
~हसरत मोहानी
***
उन की उल्फ़त का यकीं हो उन के आने की उम्मीद
हों ये दोनों सूरतें तब है बहार-ए-इंतज़ार

*** Intzar Shayari in Hindi
वही ख़्वाब ख़्वाब हैं रास्ते वही इंतज़ार सी शाम है
ये सफर है मेरे इश्क़ का,न दयार है न क़याम है !!-सुख़नवर
***
ग़म-ए-हयात से दिल को अभी निजात नहीं,
निगाह-ए-नाज़ से कह दो कि इंतज़ार करे !! -शकील बदायूनी
***
थक गये हम करते करते इंतज़ार,
इक क़यामत उन का आना हो गया !!
**
लूटे मज़े उसी ने तेरे इंतज़ार के
जो हद-ए-इंतज़ार से आगे निकल गया
*** Intzar Shayari in Hindi
लुत्फ़ जो उस के इंतज़ार में है
वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है !!
***
सूरत दिखा के फिर मुझे बेताब कर दिया,
एक लुत्फ़ आ चला था ग़म-ए-इंतज़ार में !!
***
होंठ पे लिए हुए दिल की बात हम
जागते रहेंगे और कितनी रात हम
मुख़्तसर सी बात है तुम से प्यार है
तुम्हारा इंतज़ार है..

*** Intzar Shayari in Hindi
गर इंतज़ार कठिन है तो जब तलक ऐ दिल,
किसी के वादा-ए-फ़र्दा की गुफ़्तगू ही सही !! -फैज़
****
शब-ए-इंतज़ार की कशमकश न पूछ कैसे सहर हुई
कभी इक चिराग़ जला दिया, कभी इक चिराग़ बुझा दिया !! -मजरूह सुल्तानपुरी
***
अपने लिए भी मौसमे गुल है बहार है,
जब से सुना है उनको मेरा इंतज़ार है ~रहबर
***
कहीं आके मिटा न दें इंतज़ार का लुत्फ
कहीं कुबूल न हो जाये इल्तज़ा तेरी
*** Intzar Shayari in Hindi
वो मज़ा कहाँ वस्ल-ए-यार में
लुत्फ़ जो मिला है तुम्हें इंतज़ार में

****
तेरा ख़याल तेरा इंतेज़ार करते हैं
हम अपने आपको ख़ुद बेक़रार करते हैं
ये फ़ासला भी मोहब्बत में लुत्फ़ देता है
जब इंतेज़ार में हम इंतेज़ार करते हैं
***
तमाम उम्र तेरा इंतेज़ार कर लेंगे
मगर ये रंज रहेगा के ज़िन्दगी कम है
*** Intzar Shayari in Hindi
शिद्दत से बहारों के इंतेज़ार में सब हैं
पर फूल मोहब्बत के तो खिलने नहीं देते
***
मैनें तो इंतेज़ार में उसके ज़िंदगी गुज़ार दी
उसके लिए तो रास्ते भी दुश्वार बन गए
***
ज़िदंगी के सारे लम्हे रफ़्ता-रफ़्ता कट गए
इंतेज़ार, आस, खुशी और ग़म में बंट गए
***
मेरे पीठ पर जो ज़ख्म हैं,वो अपनों की निशानी है
वर्ना सीना तो आज भी दुश्मनों के इंतेज़ार में बैठा है
*** Intzar Shayari in Hindi
कोई वादा नहीं किया लेकिन, क्यों तेरा इंतजार रहता है !
बेवजह जब क़रार मिल जाए, दिल बड़ा बेकरार रहता है !! –गुलज़ार

Search Tags
Intzar Shayari in Hindi, Intzar Shayari, Intzar Hindi Shayari, Intzar Shayari, Intzar whatsapp status, Intzar hindi Status, Hindi Shayari on IntzarIntzar whatsapp status in hindi, Intzar Shayari in Hindi Font, Shayari in Hindi Font,
Waiting Shayari, Waiting Hindi Shayari, Waiting Shayari, Waiting whatsapp status, Waiting hindi Status, Hindi Shayari onWaitingWaiting whatsapp status in hindi, Waiting Shayari in Hindi Font
 इंतज़ार हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, इंतज़ारइंतज़ार स्टेटस, इंतज़ार व्हाट्स अप स्टेटस, इंतज़ार पर शायरी, इंतज़ार शायरी, इंतज़ार पर शेर,इंतज़ार की शायरी,
Share: