Weather (state,county)

परीक्षा देना भी "आसान है"

परीक्षा की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. अब सारे बच्चो के दिमाग में बस एक ही Tension समाया हुआ है, "परीक्षा". परीक्षाएं किसी को अच्छी नहीं लगतीं. लेकिन उनका सामना तो करना ही पड़ता है. यह हमारे लिए जरूरी भी है. इस समय पढाई की tension बच्चों के साथ साथ उनके माता-पिता को भी रहती है. परीक्षा इस लिए भी जरुरी है कि आपने एक साल में क्या पढ़ा. निश्चित तौर पर अगर आपने सही रूप से तैयारी किये होंगे, तो थोडा सा जरुर Relax होंगे.

तो आइये जानते हैं कि इतने कम समय में परीक्षा में अछे अंक लाने के लिए कैसे तयारी करें.....

  • रिवीजन करें. 

रिवीजन बड़े कम की चीज है. परीक्षा के अंतिम दिनों में रिवीजन यानी पाठ को दोहराना बहुत काम आता है. इससे पढ़ी हुई पुरानी बातें याद आ जाती हैं और कम समय में भी आप अच्छी तैयारी कर सकते हैं. अब वो समय आ गया है कि आप अपने सिलेबस का अच्छे से रिवीजन कर लें. हमें इस समय कुछ छूटे हुए चैप्टर पे ध्यान नहीं देना चाहिए. रिवीजन करने से सरे पढ़े हुए पाठ आपके दिमाग में ताजा हो जायेंगे और यह भी पता चल जायेगा की आप कहा गलती करते हैं.

  • नोट्स बनायें.

परीक्षा के लिए पढ़ाई करते समय अगर अपने लेसन में जो भी जरूरी बातें हैं, तो उन्हें अलग छोटे-छोटे वाक्यों में लिख लें, ताकि रिवीजन के समय सिर्फ इसे ही दोहराकर आपको सारी बातें याद आ जाएं. अपने दोस्तों से भी नोट्स तैयार करने के लिए बोलें. जब कई दोस्त अलग-अलग विषयों के नोट्स बनाएंगे और उनको एक्सचेंज कर लेंगे, तो कम समय में आसानी से बेहतर तैयारी हो जाएगी.

  • टाइम टेबल तैयार करें.

अगर आप एक टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई करेंगे तो आपके लिए तैयारी काफी आसान हो जाएगी. आप एक रुटीन चार्ट बनाकर सभी विषयों के लिए नियत समय तय कर लें. जिस विषय में आपको ज्यादा मेहनत की जरूरत है उस पर ज्यादा समय दें और जो विषय आपके लिए आसान है, उसे थोड़ा कम समय दें, लेकिन सभी विषयों के लिए हर दिन समय तय कर लें. ऐसा करने से सभी विषयों की अच्छी तैयारी हो जाएगी. खाने, खेलने जैसे कामों के लिए भी समय नियत कर लें, ताकि बेहतर तैयारी हो सके. एक बड़े से चार्ट पेपर पर टाइम टेबल बनाकर अपने रूम में लगा लें और उसे सही से फॉलो करें.

  • ग्रुप स्टडी करें.

ग्रुप स्टडी करने से आपको अपनी कमजोरी अपने दोस्तों के द्वारा पता चलता है और इसे सुधारने का आपको मौका मिल जाता है. खासकर ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन याद करने में काफी आसानी होती है. और साथ ही अगर कोई चीज़ समझ में नहीं आ रही है तो आप अपने दोस्तों से पूछ सकते हैं.

  • खेलना भी है जरुरी.

हम ज्यादातर एग्जाम में खेलने की आदत को छोड़ देते हैं जिससे हमारी सेहत पर बुरा असर पड़ता है. इसलिए खेलिए मगर ध्यान से. खेल हमें तरोताजा रखता है इसके कारण हम पढाई पे ज्यादा ध्यान दे पते हैं. 

  • बढ़िया भोजन करें.

इस समय आपको एक अच्छे सेहत की जरुरत होती है और उसके लिए जरुरी है की आप बढ़िया भोजन करें. जंक फूड का उपयोग अपने खाने में न के बराबर करें. अपना भोजन सही समय पर करें तथा इसके साथ फल, जूस और दूध भी लिया कीजिये. ये दिमाग को तेज बनाते हैं और आपको स्वस्थ रखते हुए आपकी तयारी में मदद करता है.

  • पर्याप्त नींद लें.

दिमाग की थकन को ख़त्म करने का सबसे अच्छा तरीका होता है नींद. बेहतर पढाई के लिए ये जरुरी भी होता है. हम लोग परीक्षा के दवाब में आकर हमेशा अपनी नींद कम कर देते हैं और देर रात जागकर पढाई करते रहते हैं, पढना जरुरी है लेकिन नींद भी. आपको कम से कम 7-8 घंटे की नींद लेनी चाहिए. अगर अच्छी नींद लीजियेगा, तो ताकत बची रहेगी और एकाग्रता भी बढ़िया रहेगा.

सबसे बड़ी बात की आप एग्जाम हाल में आत्मविश्वास के साथ प्रवेश करें. अपने क्वेश्चन को अच्छी तरह से पढ़े तथा उसके कहे अनुसार ही जवाब दें. अंत में अपने आंसर शीट को दुबारा चेक करना न भूलें.

हमारी शुभकामनायें आप के साथ है. और अब मुझे विश्वास है की आप भी कह रहे होंगे................ "परीक्षा देना  आसान है". धन्यबाद !
Powered by Blogger.