Weather (state,county)

उबटन से पाएं दमकता निखार

प्रकृति के पास इतनी सारी नायाब चीज़ें हैं कि यदि हम उनका प्रयोग करें तो इससे हमें लाभ ही मिलेगा। आज हम बात करने जा रहे है उबटन की। उबटन के अनेक प्रकार है जोकि स्किन की रंगत निखारने और त्वचा को बेदाग़ बनाने में किया जाता है। हालाँकि बाजार में अब उबटन रेडीमेड भी मिलने लगे है मगर आप इन्हें खरीदने से बेहतर है कि आप इन्हे घर पर ही बनाये। जानते है कैसे :
 
उबटन आज के ज़माने के ब्यूटी प्रोडक्ट नहीं है। बल्कि यह बहुत पहले से ही स्किन केयर के लिए प्रयोग में आते रहें है। आपने अक्सर इनके बारें में घर की बुजुर्ग महिलाओं को बात करते सुना होगा। उबटन सामान्यतौर पर सभी प्रकार की स्किन टाइप पर प्रभावशाली होते हैं। साथ ही यह सेंसटिव स्किन पर भी काफी असरदार होते है मगर फिर भी यदि आप पहली बार इसका प्रयोग कर रहे है तो पहले स्किन टेस्ट अवश्य कर ले। 
 
उबटन के लाभ :
 
घर पर उबटन बनाने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आप बहुत से स्किन केमिकल का प्रयोग करने से बच जाते है। प्राकृतिक चीजों का प्रयोग होने के कारण यह स्किन के लिए लाभकारी और प्रभावशाली दोनों ही होते है। 
 
कैसे बनाएं उबटन :
 
चेहरे ले लिए -
 
दो चम्मच बेसन में एक चम्मच बादाम का पेस्ट, एक चम्मच काजू का पेस्ट, दूध (या फिर आप एक चम्मच मिल्क पाउडर भी ले सकते है), थोड़ी सी मलाई, निम्बू का रस, एक चुटकी हल्दी पाउडर, जरा सा गुलाब जल व आधा चम्मच ग्लिसरीन को ले एक साथ मिलाये और इसका गढ़ा पेस्ट बनाएं। यदि आपकी स्किन रूखी है या फिर सर्दी का मौसम है तो आप ग्लिसरीन की जगह ओलिव आयल मिला सकते है। इससे आपकी स्किन रूखी नहीं होगी। इस उबटन को चेहरे पर लगाये और सूखने पर हलके हाथों से रगड़ कर निकले। उसके बाद थोड़े से कुनकुने पानी से चेहरे को धो कर साफ़ कर ले। 
 
शरीर ले लिए -
 
शरीर के लिए उबटन बनाने ले लिए आपको चार बड़े चम्मच में एक बड़ा चम्मच आटा मिलाये और फिर इसमें थोड़ी सी हल्दी, चन्दन पाउडर, गुलाब जल, ओलिव आयल या फिर बादाम का तेल मिलाये। इसके गाढ़े पेस्ट को शरीर पर लगाएं और सूखने पर हलके हाथो से रगड़ कर निकले। थोड़े से गर्म पानी से स्किन को साफ़ करें और स्किन के सूखने पर मॉश्चराइजर को लगा ले। 
 
कैसे करें स्किन टेस्ट :
 
यदि आप उबटन का प्रयोग पहली बार कर रहे है तो स्किन टेस्ट कर ले। पेस्ट को अपने गर्दन पर कान के निचले हिस्से पर एक इंच जितना लगाये और फिर उबटन के सूखने पर इसे पानी से साफ़ कर ले। आधे घंटे बाद फिर से उसी जगह की स्किन को चेक करें। यदि आपकी स्किन में किसी प्रकार कि एलर्जी या फिर स्किन में किसी प्रकार के रशेज़ नहीं दिखायी दे तोह आप इस उबटन को अपने चेहरे पर लगा सकते है। 
Powered by Blogger.