Weather (state,county)

Miss you Shayari mix collection याद पर शायरी संग्रह

Miss you shayari
यूँ दूरियों की आग में सुलगती है जाँ छुटता नही है दिल से तेरी याद का धुआँ |
***
“सिसकियाँ लेता है वजूद मेरा गालिब,
नोंच नोंच कर खा गई तेरी याद मुझे।”
***
नींद को आज भी शिकवा है मेरी आँखों से,
मैंने आने न दिया उसको तेरी याद से पहले..!!
***
ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा;
मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा
***
रात हुई जब शाम के बाद! तेरी याद आई हर बात के बाद! हमने खामोश रहकर भी देखा! तेरी आवाज़ आई हर सांस के बाद!
***
रात हुई जब शाम के बाद! तेरी याद आई हर बात के बाद! हमने खामोश रहकर भी देखा! तेरी आवाज़ आई हर सांस के बाद!
***
हो जाओ गर तनहा कभी तो मेरा नाम याद रखना
मुझे याद हैं सितम तेरे , तू मेरा प्यार याद रखना
***
इन आँखों ने भी दम तोड़ दिया तेरे आने के एतबार में
मुझे याद है वादा फरोशी तेरी तू ये इंतज़ार याद रखना
***
गम ने हसने न दिया ज़माने ने रोने न दिया!
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया
थक के जब सितारों से पनाह ली
तो तेरी याद ने सोने न दिया!
***
जीने को कोइ बहाना बता दो…
तेरी याद में रोज़ मरती हूँ मैं…!!
*** Miss you shayari
मुस्कुराती आँखों से अफ़साना लिखा था,
शायद आपका मेरी ज़िन्दगी में आना लिखा था
तक़दीर तो देखो मेरे आँसू की उसको भी
तेरी याद मे बह जाना लिखा था
***
दुआ कौन सी थी हमे याद नही बस इतना याद है,
दो हथेलियाँ जुड़ी थी एक तेरी थी एक मेरी थी..!!
***
सांस को बहुत देर लगती है आने में
हर सांस से पहले तेरी याद आ जाती है
***
हम कोई तर्क_ए वफ़ा करते हैं_\
तू ना सही तेरी याद ही सही
***
तुझसे ज्यादा तेरी याद को है मुझसे हमदर्दी,
देखती है मुझे तन्हा तो चली आती है…!!!
***
मैं शिकायत करूँ तो क्यों करूँ ,ये तो किस्मत की बात है,
तेरी सोच में भी नहीं मैं,और तू मुझे लफ्ज़ लफ्ज़ याद है!
***
मुझे याद है तो इतना तेरी जुस्तजू में था
मैं मगर उसके बाद तो बस कहीं ख़ुद ही खो गया मैं
***
यूँ चाँद भी तन्हा है, चांदनी के बगैर,
मेरा दिल भी तन्हा है तेरी याद के बगैर…
***
चली आती है… तेरी याद मेरे जहन में अक्सर.. तुझे हो ना हो.. तेरी यादो को जरूर मुझसे मोहब्बत है
***
याद आती है तेरी आ के ठहर जाती है
मेरी साँसों में जुनूँ बन के उतर जाती है
*** Miss you shayari
लिखते हैं कि तेरी याद चली जायेगी, पर हर लब्ज क़यामत ढाता है ।
***
बहुत छुपा कर रखा था तेरी मोहब्बत का राज़ सबसे !
तेरी याद आते ही ये अश्क सब बयान कर देते हैं !!
***
मेरी मोहब्बत सच्ची है इसलिए तेरी याद आती है.. अगर तेरी बेवफाई सच्ची है तो अब याद मत आना.
***
धूप गई छाँव गई दिन गया रात गई
दिल से तेरी याद न गयी मिलने की फरियाद न गयी
***
तेरी याद को पसन्द आ गई है मेरी आँखों की नमी,
हँसना भी चाहूँ तो रूला देती है तेरी कमी
***
मेरी डबडबाती आंखों पे ठिठके अश्क़ सा…
नश्तऱ सी गड़ती तेरी याद सा…इश्क़!
***
कितने अजीब इंसान है तेरी दुनिया मेँ ऐ खुदा
शौक ऐ मोहब्बत भी रखते है और याद तक नहीँ करते…..!
***
तेरी मजबूरियाँ भी होगी चलो मान लेते है….!!
मगर तेरा एक वादा भी था मुझे याद रखने का….!
***
तुजे भुलाने के हज़ार तरीक़े सोचते रहे रात भर ,
और इस तरह तेरी याद में एक रात और गुज़र गयी.
***
तुझे भूल जाने की कोशिश कभी कामयाब न हो सकी..
तेरी याद फूल-ऐ-गुलाब है, जो हवा चली तो महक गई..
***
तेरी याद से शुरू होती है मेरी हर सुबह,
फिर ये कैसे कह दूँ.. कि मेरा दिन खराब है..!!
*** Miss you shayari
आज फिर दिल ने कहा आओ भुला दें यादें
भूल जाना भी तो इक तरह की नेअमत है
वरना इंसान को पागल न बना दें यादें
***
इक रिश्ता जो है और नहीं भी बस कुछ लफ़्ज़ से हैं तेरे मेरे दरमियां कुछ पुरानी /कुछ ताज़ी यादें दो जोड़ी आंखों की वो गुफ्तगू और इक अभूली याद!
***
तेरी तस्वीरों में कुछ यादें मेरी भी हैं कुछ पलों की बातें अधूरी भी हैं
***
वो मोहब्बत ही क्या जिसमें यादें ही न हो और वो यादें ही क्या जिसमें तुम न हो….
***
यादें जब आती हैं बनजाते हैं रुसवाइयों के बवंडर
आँखों से आँसुंओं की धार निकल जाती है
अँधेरे उजले पथ पर चलते चलते
एक टूटी तस्वीर उभर जाती है ।
***
उतर जाती हैं जो जहन में तो फिर जल्दी नींद नहीं आती.. ये कॉफ़ी और तुम्हारी यादें..एक जैसी हैं..!!
***
“एक मुख़्तसर लम्हा ही तो था… अपने पीछे ना जाने कितनी यादें छोड़ गया….!!”
***
तेरी यादें अक्सर छेड़ जाया करती हैं कभी अा़ँखों का पानी बनकर कभी हवा का झोंका बनकर.!!!
***
ले लो ना वापिस… वो तड़प वो आंसू वो यादें सारी, नही कोई जुर्म मेरा तो फिर ये सजायें कैसी??
***
ज़िन्दगी मे कुछ हसीन पल बस यूँही गुज़र जाते है..
रह जाती है यादें इंसान बिछड़ जाते है..
***
गुज़र जायेगा ये दौर भी चंद लम्हो में…
कुछ अजनबियों से ही सही ..यादें तो बना लीजिये जनाब
*** Miss you shayari
इंतज़ार रहता है हर शाम तेरा; यादें काटती हैं ले-ले के नाम तेरा; मुद्दत से बैठे हैं तेरे इंतज़ार में; कि आज आयेगा कोई पैगाम तेरा!
***
यादें उन्हीं की आती है जिनसे कुछ ताल्लुक हो ! हर शख्स मुहब्बत की नजर से देखा नही जाता !!
***
ख़र्च जितना भी करूँ,,, ~ बढ़ती जाती है ये यादें तेरी अजीब दौलत है !
***
इतनी यादें तेरी पर तू ही मेरे पास नहीं….. इतनी बातें है पर करने को तू ही साथ नहीं
***
इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है, फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती? मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर, बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती…
***
क्या खूब होता अगर यादें रेत होती… मुठी से गिरा देते, पाँव से उड़ा देते…
***
जीना चाहते हैं ज़िन्दगी रास नहीं आती मरना चाहते हैं मौत पास नहीं आती बहुत उदास हैं हम इस ज़िन्दगी से उनकी यादें तो तड़पाने से बाज़ नहीं आती
***
यूँ ही गुजर जाते हैं मीठे लम्हे किसी मुसाफिर की तरह .. और यादें वहीँ खड़ी रह जाती हैं रुके रास्तों की तरह !!.
***
जहन में हर शाम यादें तुम्हारी आ बैठती हैं ऐसे …किसी दीवार पर दोपहर की धूप चढ़ी हो जैसे
***
कुछ जख्म कुछ दर्द कुछ यादें ” कुछ अधुरे ख्वाब ” कुछ झूठे वादे ! शुक्रिया मोहब्बत तेरा ” तुमने खाली हाथ नही भेजा अपने दर से !!!
***
मेरे दिल की सिम्त न देख तू,। किसी और का ये मुक़ाम है, यहाँ उसकी यादें मुक़ीम हैं, ये किसी को मैने दिया नहीं,॥
*** Miss you shayari
प्यार का रिश्ता भी कितना अजीब होता है.. मिल जाये तो बातें लंबी और बिछड़ जायें तो यादें लंबी..।।
***
Powered by Blogger.