Weather (state,county)

Mulaqat Shayari mix collection मेहबूब से मुलाक़ात पर शायरी संग्रह

मेरी नजरो को आज भी तलाश हे तेरी बिन तेरे ख़ुशी भी उदास हे मेरी
खुदा से मांगा हे तो सिर्फ इतना मरने से पहले आपसे मुलाक़ात हो मेरी
***
सुबह को जो नींद से जागे तब रात का ख्याब याद आया गया।।
क्या खूब रही थी सपनो में मुलाक़ात आपसे
***
खुशिया किसी की मोहताज नहीं होती, दोस्ती यूँही इत्तेफ़ाक़ से नहीं होती
कुछ तो मायने होंगे इस पल के, वरना यूँही आपसे मुलाक़ात नहीं होती
***
काश आपकी सूरत इतनी प्यारी ना होती; काश आपसे मुलाक़ात हमारी ना होती;
सपनो में ही देख लेते हम आपको; तो आज मिलने की इतनी बेकरारी ना होती!
***
मिलने आयेंगे आपसे ख़्वाबों में जरा रोशनी के दिए बुझा दीजिये
अब और नहीं होता इंतज़ार आपसे मुलाक़ात का अपनी आँखों के पलके गिरा दीजिये
*** Mulaqat Shayari in Hindi
अगर हमारी आपसे मुलाक़ात होगई होती
आपकी आपके दिलसे अदावत होगई होती
***
इस उम्मीद में करते हैं इंतज़ार हम रात का; कि
शायद सपनों में कभी आपसे मुलाक़ात हो जाये।
***

इतना इंतज़ार अपनी धड़कनों का नहीं जितनाआप के आने का करते हैं
इतना इंतज़ार अपनी साँसों का नहीं जितना आपसे मुलाक़ात का करते हैं
*** Mulaqat Shayari in Hindi
जाते जाते कहीं भी मुलाक़ात हो जाये आपसे..
तलाश ये नज़र आपको बार बार करती है….!!!!
***
मोहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दो मुझ पर,
कम से कम तारीख दर तारीख मुलाक़ात तो हो आपसे।
***
माना की आपसे रोज मुलाक़ात नही होती आमने-सामने कभी बात नही होती
मगर हर सुबह आपको दिलसे याद कर लेते है उसके बिना हमारे दिन की शुरुआत नहीं होती
***
मेरी हर गजलो में तेरी बात आज भी है,
आपसे खयालों में मुलाक़ात आज भी है ,
तुझे भुला देना मेरे बस में नहीं शायद,
यु तो हसीनों से मुलाक़ात आज भी है,
*** Mulaqat Shayari in Hindi
कभी आपसे जो मुलाक़ात होगी यहीं सोचती हूँ की क्या बात होगी
भले दूर होंगे वोह मेरी नज़र से मगर याद उनकी मिरे साथ होगी
***
कुछ नशा तो आपकी बात का है, कुछ नशा तो धीमी बरसात का है,
हमे आप यूही शराबी ना कहिए, यह दिल पर असर तो आपसे मुलाक़ात का है
***
आप जैसे लोग कुछ खास लगते हैं; दिल में हर वक़्त एक आस रखते हैं;
जाने कब हो जाये मुलाक़ात आपसे; इसलिए 1 (Disprin) हम हमेशा अपने पास रखते हैं।
***
खूब जमेगी जब होगी आपसे मुलाक़ात,
कुछ खर्च होंगी बाते कुछ लुटेंगे जज्बात……!!!
*** Mulaqat Shayari in Hindi
आप जो हँसो तो दुनिया हँस जाये;आपकी हँसी इस दिल में बस जाये;
होगी मुलाक़ात कल फिर आपसे;यही सोच कर दिल में मेरे खुशियों का रस घुल जाये

***
मुलाक़ात हो आपसे , कुछ इस तरह हमारी…..
सारी उम्र बस एक, मुलाक़ात में गुज़ार लूँ……!!!!
***
कर तो लें हम आपसे मुलाक़ात
क्या समझेंगे पर आप दिल के ज़ज्बात….!!

*** Mulaqat Shayari in Hindi
सब कुछ मिला सकून की दौलत नहीं मिली ! आपसे मुलाक़ात की मोहलत नहीं मिली
करने को और भी काम थे मगर ! हमको आपकी याद से फुरसत नहीं मिली

***
हम उनसे मिले तो कुछ कह न सके “दोस्तों”
ख़ुशी इतनी थी कि मुलाक़ात आंसू पोंछते पोंछते ही गुजर गयी

***
कुदरत के करिश्मों में अगर रात न होती
ख्वाबों में भी फिर उनसे मुलाक़ात न होती
***
अभी अभी हमने दर्द को उनके नासूर बना डाला,
हमने तो कभी फ़िकर नही की उनसे मुलाक़ात की
मगर जाने क्यूँ उन्होंने हमें अपना ग़ुरूर बना डाला..

*** Mulaqat Shayari in Hindi
हुई मुलाक़ात किसी राह पर उनसे
अब खोजता हू हर राह पर उनको
***
मुलाक़ात का सिलसिला उनसे यूँ चलता रहा
जब मोहबत हुई तो इज़हार भी यूँ होता रहा
***
उनसे जो मुलाक़ात हो जाती ।
जाने फिर क्या बात हो जाती ॥
***
चलो आज फिर एक ग़लती कर के देखते हैं
आज फिर उनसे मोहब्बत करके देखते हैं
उनके दिल मैं चाहत है या नही
आज फिर उन से मुलाक़ात करके देखते है
*** Mulaqat Shayari in Hindi
कुछ ज़्यादा तो नहीं माँगा था हमने तुमसे ऐ ज़िंदगी,
छोटी सी आरज़ू थी उनसे मुलाक़ात-ऐ-गुफ़्तगू की..
***
हर बात पे महके हुए जज़्बात की खुशबू
आज याद बहुत आयी,उनसे मुलाक़ात की खुशबू
***
दिले तस्वीरे है यार जबकि गर्दन झुका ली, और मुलाक़ात कर ली
वो थे न मुझसे दुर,न मै उनसे दूर था आता न था नजर, तो नजर का कसूर था
***
ख़्वाहिश यह की उनसे नायाब मुलाक़ात एक बार तो हो जाये
ज़िन्दगी भर यादों के सहारे गुज़ारने से बेहतर है रुबरू हो जायें
*** Mulaqat Shayari in Hindi
मिल कर भी उनसे हसरत-ए-मुलाक़ात रह गई,
बादल तो घर आये थे बस बरसात रह गई।।
***
करनी मुझे खुदा से एक फरियाद बाकी है कहनी उनसे एक बात बाकी है
मौत भी आ जाये तो कह दूंगी जरा रुक जा अभी मेरे दोस्तो से एक मुलाक़ात बाकी है
***
दो बातें कर लेना उनसे ग़र चार न हो सके,
ख़्याल ही कर लेना ग़र मुलाक़ात न हो सके ।
***
रोज दीदार हो चाँद का ….. ये जरूरी तो नहीं ….
बेपर्दा हो मुलाक़ात उनसे … ये जरूरी तो नहीं ….
***
मैं ख़ुशनसीब हूँ की रात ख़्वाब आते हैं अक्सर
ख़्वाबों में बाइख़्तियार उनसे मुलाक़ात होती है..
***
वक़्त आखरी था उनसे दुआ-सलाम कर लिया ……
बस इतनी सी मुलाक़ात ने बदनाम कर दिया.
*** Mulaqat Shayari in Hindi
यूँ तो खुद की सैलाने-तबीयत का अंदाज़ मुश्किल था
उनसे मुलाक़ात हुई तो जाना ये दिल किस काबिल था .!!
***
जबसे मुलाक़ात हुयी है उनसे मेरी, तबसे मेरे दिल को करार आया,
कभी ज़ुल्फ़ लहराई कभी नखरा किया, उनकी इन अदाओं पर बहोत प्यार आया….!
***

Search Tags
Mulaqat Shayari, Mulaqat Hindi Shayari, Mulaqat Shayari, Mulaqat whatsapp status, Mulaqat hindi Status, Hindi Shayari onMulaqatMulaqat whatsapp status in hindi, मुलाक़ात हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, मुलाक़ातमुलाक़ात स्टेटस, मुलाक़ात व्हाट्स अप स्टेटस,मुलाक़ात पर शायरी, मुलाक़ात शायरी, मुलाक़ात पर शेर, मुलाक़ात की शायरी, महबूब से मुलाक़ात

Powered by Blogger.